Subscribe Us

header ads

फाइनल में 4 विकेट साथ रवि बिश्नोई है अंडर - 19 वर्ल्ड कप में नं. 1 पर





जोधपुर. ‘रवि रो बाळपणां सूं ई पढ़ाई सूं ज्यादा रम्मण में जीव हो। म्हैं घणौ ई समझावती के तू पढ़ाई कांनी ध्यान दै। बिना पढ्यां आज रै समैं कीं नीं हुवै। पण ओ हमेसा कैवतो के म्हनै तो खेल में इज आगै बधणौ है, सो ओ सदैव आपरा खेल नै मैंतव दियौ। परिणाम आज सगळा रै साम्हीं है। म्हनैं पक्कौ भरोसो है के रवि आवण वाळा समैं में आपारै प्रदेस अर देस रो नाम आखी दुनिया में रोसण करैला।’ आइपीएल नीलामी में किंग्स इलेवन पंजाब में पुत्र रवि विश्नोई के नाम की घोषणा के बाद उसकी मां शिवरी देवी के मुंह से यह बात निकली।
Ravi Bishnoi cricketer


रवि के किंग्स इलेवन पंजाब टीम के लिए चयनित होने की घोषणा के बाद उसके परिजन की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। उसकी मां खुशी के आंसू नहीं रोक पाई। पिता मांगीलाल विश्नोई भी खुशी से समां नहीं रहे थे। घर पर बधाई देने वालों का तांता लग गया। गली में डीजे की धुनों के साथ आतिशबाजी की गई। वहां सभी का मिठाई खिलाकर मुंह मीठा किया गया। इस दौरान रवि के कोच प्रद्युतसिंह, शाहरुख पठान व स्पार्टन क्रिकेट एकेडमी के खिलाड़ी बड़ी संख्या में उपस्थित थे।


सीनियर टीम में शामिल होना लक्ष्य आलराउंडर रवि शुक्रवार को अंडर-19 क्रिकेट वल्र्ड कप में जाने से पहले गुरुवार को जोधपुर आया और अपने माता-पिता व कोच से आशीर्वाद लिया। रवि नेपत्रिका से बातचीत में बताया कि क्रिकेट उनका पैशन है और इंडियन सीनियर टीम में सलेक्ट होना उसका लक्ष्य है। रवि ने बताया कि यहां तक पहुंचने के लिए उसने कड़ी मेहनत की है

नेट पर पसीना बहाया रवि ने वर्ष 2011-12 में क्रिकेट खेलनी शुरू की। शुरू से ही स्टेट व नेशनल टूर्नामेंट खेलना टार्गेट किया था। वह 8-10 किमी प्रतिदिन दौड़ लगाता, कोच के मार्गदर्शन में 10-12 घंटे प्रतिदिन प्रेक्टिस करता था। रवि के कोच प्रद्योतसिंह व शाहरुख पठान ने बताया कि उन्होंने रवि को कड़ी मेहनत व अत्याधुनिक मशीनों से रवि को प्रेक्टिस कराई थी। उन्हें विश्वास था कि रवि का इंडियन अंडर 19 टीम व आइपीएल में चयन होगा।

Sources:-Rajasthan Patrika


Post a comment

0 Comments