बिश्नोईयों का आसोजी मेला आज, देश के कौने कौने से पहुंचे‌ लाखों श्रद्धालु

 

 बिश्नोईयों का आसोजी मेला आज, देश के कौने कौने से पहुंचे‌ लाखों श्रद्धालु | उपराष्ट्रपति बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करेंगे


बिश्नोईयों का वार्षिक मेला आज, देश के कौने कौने से पहुंचे‌ लाखों श्रद्धालु


आसोज की अमावस्या के उपलक्ष में आज बिश्नोई समाज के सबसे बड़े माने जाने वाले धाम, मुक्ति धाम मुकाम पर मेले का आयोजन हो रहा है जिसमें देश के कोने-कोने से लाखों श्रद्धालु अपने परम श्रद्धेय गुरु जांभोजी भगवान के दर्शनार्थ शामिल हो रहे हैं। मुक्ति धाम मुकाम के साथ बिश्नोईयों के आद्य स्थल समराथल धोरा, जांभोजी के जन्म स्थल पीपासर, लोहावट साथरी, कांठ उत्तर प्रदेश, सोनड़ी, मेघावा और भिंयासर साथरी पर भी मेले का आयोजन किया जाता रहा है। 

विगत 2 सालों से कोरोना महामारी के मध्य उपजे खतरे के मध्यनज़र मेले का आयोजन नहीं किया गया। इसी वर्ष फाल्गुन अमावस्या पर मेला तो भरा गया पर धर्म सभा का आयोजन नहीं किया गया। आज धर्मसभा का आयोजन किया जाएगा जिसमें उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ बतौर मुख्य अतिथि समाज के संबोधित करेंगे।

गत रात जाम्भाणी परम्परा के अनुरूप हर वर्ष की भांति निज मंदिर मुक्ति धाम मुकाम के परिसर में जागरण का आयोजन किया गया। इस जागरण में महासभा अध्यक्ष सहित समाज के संत श्रेष्ठ व राजनीतिक नेतृत्व ने भाग लिया और मेले में पधारने वाले व युट्युब पर देखने वाले लोगों को अपने विचारों से लाभान्वित किया।

आज सुबह से ही निज मंदिर के परिसर में रखे बड़े हवन कुंड में यज्ञ हो रहा है जिसमें मंदिर आने वाले प्रत्येक श्रद्धालु आहुति देकर स्वयं, परिवार, समाज और राष्ट्र की मंगल कामना करते हैं। हर वर्ष इस अवसर पर होने वाले यज्ञ में सैकड़ों मण घी की आहुति श्रद्धालु जनों द्वारा दी जाती है जिससे यहां के आसपास का वातावरण शुद्ध होता है। 

श्रद्धालुजन सबसे पहले अपने आद्य स्थल समराथल धोरा धाम पर पहले लेकर धोक लगाते हैं उसके पश्चात गुरु जांभोजी के समाधि स्थल मुक्ति धाम मुकाम मंदिर में गुरु के चरणों में शीश नवाते हैं। फिर जांभोजी के जन्म स्थान पीपासर धाम होते हुए निर्वाण स्थल लालासर साथरी भी दर्शनार्थ जाते हैं। 


उपराष्ट्रपति करेंगे ‘बिश्नोई रत्न’ चौधरी भजनलाल की मूर्ति का अनावरण 



उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ आज 12 बजे मुकाम पहुंचेंगे। वे मुकाम में नवनिर्मित चौधरी भजनलाल बिश्नोई की मूर्ति का अनावरण करेंगे। तत्पश्चात वो नवनिर्मित स्टेज व सौंदर्यीकरण का उद्घाटन करेंगे। इस दौरान होने वाले बिश्नोई समाज के खुले अधिवेशन में उप राष्ट्रपति समाज को संबोधित करेंगे। उपराष्ट्रपति के अलावा पूर्व विधायक कुलदीप बिश्नोई, महासभा अध्यक्ष देवेंद्र बूड़िया, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, मंत्री अर्जुनराम मेघवाल, मंत्री कैलाश चौधरी, राज्यसभा सदस्य राजेंद्र गहलोत, उप नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र सिंह राठौड़ एवं बिश्नोई समाज के विधायक बिहारीलाल बिश्नोई, महेन्द्र विश्नोई, सुखराम विश्नाई, किशनाराम विश्नोई, धूड़ाराम बिश्नोई, पूर्व सांसद जसवंत सिंह, हीरालाल बिश्नोई, केके बिश्नोई सहित अन्य जनप्रतिनिधि व बिश्नोई समाज के गणमान्य लोग उपस्थित रहेंगे करेंगे।


23 सितंबर से ही फाल्गुन मेला मुकाम में सम्मिलित होने के लिए मुकाम में श्रद्धालु जमा होने लग गए थे। आज लाखों श्रद्धालु एक यज्ञ की पवित्र ज्योति में साथ गुरु महाराज के दर्शन करेंगे और अपने तम-विकार को तजकर प्रेम व सद्भाव की भावना ग्रहण करेंगे।‌‌


इसे भी पढ़ें:


0/Post a Comment/Comments

कृपया टिप्पणी के माध्यम से अपनी अमूल्य राय से हमें अवगत करायें. जिससे हमें आगे लिखने का साहस प्रदान हो.

धन्यवाद!


Hot Widget

VIP PHOTOGRAPHY